सबरीमाला – कोट्टायम (केरल)

सबरीमाला एक हिंदू तीर्थ स्थल है जो भारत के प्रदेश केरल के पथानामथिट्टा जिले में पेरूनद ग्राम पंचायत के पश्चिमी घाट पर्वत श्रृंखला में पेरियार टाइगर रिजर्व में स्थित है। एक अनुमान के अनुसार 10 करोड़ से अधिक हर साल आने वाले श्रद्धालुओं के साथ दुनिया में सबसे बड़ी वार्षिक तीर्थ में से एक है।Read More

 

सिद्धिविनायक मंदिर- मुम्बई (महाराष्ट्र)

श्री सिद्धिविनायक गणपति का जन्म ईश्वरीय गणेश पुराने मंदिर में 19 नवंबर 1801, गुरुवार के दिन भगवान को प्रतिष्ठित किया गया। हिंदू कैलेंडर के मुताबिक इस दिन कार्तिक शुधा चतुर्दशी और 1723 दुर्मुख संवात्सर पड़ता है। ये मंदिर 3.60 मीटर लंबाई और 3.60 मीटर चौड़ाई में बना है। ये भूतल की संरचना(देखें तस्वीर नंबर 1)Read More

 

द्वारिकाधीश मंदिर – द्वारका (गुजरात)

भगवान श्रीकृष्ण की स्तुति पूरे भारत में किसी न किसी रूप में की जाती है। ऐसे ही एक जगह है गुजरात राज्य के पश्चिमी सिरे पर समुद्र के किनारे स्थित हिंदुओं का पवित्र स्थल द्वारका। यह वह जगह है जहां द्वारकाधीश भगवान श्रीकृष्ण ने कई साल राज किया। यहीं पर रहकर उन्होंने पांडवों को सहाराRead More

 

बद्रीनाथ मंदिर – बद्रीनाथ (उत्तराखंड)

बद्रीनाथ मंदिर , जिसे बद्रीनारायण मंदिर भी कहते हैं, अलकनंदा नदी के किनारे उत्तराखंड राज्य में स्थित है। यह मंदिर भगवान विष्णु के रूप बद्रीनाथ को समर्पित है। यह हिन्दुओं के चार धाम में से एक धाम भी है। ऋषिकेष से यह 214 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है । ये पंच-बद्री में से एकRead More

 

श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर – तिरुवनंतपुरम (केरल)

श्री पद्मनाभ स्वामी मंदिर तिरुवनंतपुरम शहर के बीच में स्थित है। इस मंदिर में भगवान विष्णु वास करते हैं। मंदिर की देख रेख त्रावणकोर के पूर्व शाही परिवार द्वारा की जाती है। मंदिर बहुत ही खूबसूरती से द्रविड़ शैली में बनाया गया है। पद्मनाभ स्वामी की मूर्ति मंदिर का मुख्य आकर्षण है। मंदिर में भगवानRead More

 

जगन्नाथ मन्दिर – पुरी (ओडिशा)

पुरी का श्री जगन्नाथ मंदिर एक हिन्दू मंदिर है, जो भगवान जगन्नाथ (श्रीकृष्ण) को समर्पित है। यह भारत के ओडिशा राज्य के तटवर्ती शहर पुरी में स्थित है। जगन्नाथ शब्द का अर्थ जगत के स्वामी होता है। इनकी नगरी ही जगन्नाथपुरी या पुरी कहलाती है। इस मंदिर को हिन्दुओं के चार धाम में से एकRead More

 

अक्षरधाम मंदिर – नई दिल्ली

दिल्ली शहर लोगो को आकर्षित करने वाला शहर है, यहाँ की संस्कृति और धर्म दोनों ही लोगो को आकर्षित करते है। आकर्षण की एक और वजह यहाँ बना अक्षरधाम मंदिर भी है जो स्वामीनारायण मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर विश्व के विशालकाय मंदिरों में से यह एक है। इसका विशाल आर्किटेक्चरRead More

 

कमल मंदिर – नयी दिल्ली

भारत की राजधानी दिल्ली के नेहरू प्लेस के पास स्थित एक बहाई उपासना स्थल है। यह अपने आप में एक अनूठा मंदिर है। यहाँ पर न कोई मूर्ति है और न ही किसी प्रकार का कोई धार्मिक कर्म-कांड किया जाता है, इसके विपरीत यहाँ पर विभिन्न धर्मों से संबंधित विभिन्न पवित्र लेख पढ़े जाते हैं।Read More

 

सूर्य मंदिर – कोणार्क (उड़ीसा)

कोणार्क शब्द, कोण और अर्क शब्दों के मेल से बना है. अर्क का अर्थ होता है सूर्य जबकि कोण से अभिप्राय कोने या किनारे से रहा होगा. कोणार्क का सूर्य मंदिर पुरी के उत्तर पूर्वी किनारे पर समुद्र तट के क़रीब निर्मित है. यह कई इतिहासकारों का मत है, कि कोणार्क मंदिर के निर्माणकर्ता, राजाRead More

 

रामेश्वरम – रामनाथपुरम (तमिलनाडु)

रामेश्वरम हिंदुओं का एक पवित्र तीर्थ है। यह तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में स्थित है। यह तीर्थ हिन्दुओं के चार धामों में से एक है। इसके अलावा यहां स्थापित शिवलिंग द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है। भारत के उत्तर मे काशी की जो मान्यता है, वही दक्षिण में रामेश्वरम् की है। रामेश्वरम चेन्नईRead More